उत्तर प्रदेशमध्य प्रदेश

आंध्र प्रदेश रेल हादसे में अब तक 13 लोगों की मौत, इंसानी गलती के चलते टकराईं दोनों ट्रेनें

इंसानी गलती के चलते टकराईं दोनों ट्रेनें

आंध्र प्रदेश के विजयनगरम जिले में रविवार (29 अक्टूबर) को दो पैसेंजर ट्रेनों में टक्कर हो गई. इस रेल हादसे में 13 लोगों की मौत हुई है, जबकि 50 यात्री घायल हुए हैं. अधिकारियों ने स्थानीय पुलिस के हवाले से इसकी जानकारी दी है. मृतकों के लिए मुआवजे का ऐलान किया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने इस हादसे पर दुख जताया है. रेलवे ने बताया है कि ट्रेन हादसे में शामिल ट्रेनों के नाम 08532 विशाखापत्तनम-पलासा पैसेंजर और 08504 विशाखापत्तनम-रायगड़ा पैसेंजर स्पेशल था. इस टक्कर की वजह से कई सारी ट्रेनों के रूट बदलने पड़े हैं. जिस लाइन पर ये ट्रेन हादसा हुआ है, उसे हावड़ा-चेन्नई लाइन के तौर पर जाना जाता है. फिलहाल रेलवे ट्रैक को साफ करने का काम किया जा रहा है. ऐसे में आइए आंध्र प्रदेश में हुए इस रेल हादसे के बारे में अब तक के सभी अपडेट्स जानते हैं.  रेलवे ने बताया है कि विजयनगरम जिले के कांतकपल्ले में विशाखापत्तनम-रायगड़ा पैसेंजर स्पेशल ट्रेन ने शाम 7 बजे के करीब विशाखापत्तनम-पलासा पैसेंजर ट्रेन को पीछे से टक्कर मार दी. इसकी वजह से उसके चार डिब्बे पटरी से उतर गए. हादसे के पीछे की वजह मानवीय गलती को बताया गया है. विजयनगरम जिले के एसपी ने बताया कि इस रेल हादसे में 13 लोगों की मौत हुई है, जबकि 50 लोग घायल हुए हैं. भारतीय रेलवे के अधिकारियों ने बताया है कि ये ट्रेन एक्सीडेंट अलामंदा और कंटकपल्ली रेलवे स्टेशन के बीच हुआ. हादसे की वजह से इलेक्ट्रिक लाइन उखड़ गईं, जिसके चलते पूरा इलाका अंधेरे में डूब गया. राहत एवं बचाव कार्य में जुटे लोगों को इसकी वजह से परेशानी भी हुई है. विजयनगरम जिले में हुए इस रेल हादसे के बाद रेलवे ने 13 ट्रेनों को रद्द, डायवर्ट या टर्मिनेट किया है. रेलवे ने कहा है कि हादसे की वजह से ट्रैक ब्लॉक हो गए हैं, जिन पर अभी मरम्मत का काम जारी है, जिसकी वजह से यहां से ट्रेन गुजर नहीं सकती है. रेल हादसे के बाद विजयनगरम जिले की डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर के जरिए अपने ऑफिस में एक कंट्रोल रूम तैयार किया गया है. इस कंट्रोल रूम का टोल-फ्री नंबर 9493589157 है. इसके अलावा यात्रियों के परिजनों की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर 8978080006 भी जारी किया गया है. आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने घटना पर दुख व्यक्त किया है. सीएम रेड्डी ने कहा कि उन्होंने जिला अधिकारियों को तत्काल राहत उपाय लागू करने का निर्देश दिया है. विशाखापत्तनम और अनाकापल्ली जिलों से एम्बुलेंस को सेवा में लगाया जाएगा. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया है कि सरकार ने रेल हादसे के पीड़ितों के लिए मुआवजे का ऐलान किया है. दुर्घटना में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों को 10 लाख रुपये, गंभीर रूप से घायल को दो लाख रुपये और मामूली रूप से घायल को 50,000 रुपये मुआवजे के तौर पर दिए जाएंगे. मुख्यमंत्री रेड्डी ने भी पीड़ितों के लिए मुआवजे का ऐलान किया है. सीएम ने अपने राज्यों के मृतकों के परिजनों को 10 लाख रुपये और घायलों को 2 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया है. जबकि अन्य राज्यों के मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये और घायलों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से बात कर हालात का जायजा लिया. प्रधानमंत्री ने शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button