दक्षिण दिल्लीदिल्ली

जामताड़ा में दिल्ली पुलिस की रेड, धोखेबाज को दबोचा

कस्टमर केयर सर्विस के नाम पर बनाता निशाना फिशिंग लिंक भेजकर करता चीटिंग

साइबर ठगी के नाम से कुख्यात झारखंड का जामताड़ा का एक और मामला सामने आया है। जिसमें साउथ वेस्ट डिस्ट्रिक्ट के साइबर थाना की पुलिस टीम ने एक चीटर को जामताड़ा से गिरफ्तार किया है। जो फिशिंग लिंक के जरिए महिला को टारगेट करके उनसे ठगी की वारदात को अंजाम दिया था। जिस शिकायतकर्ता के द्वारा की गई शिकायत पर पुलिस ने इसे गिरफ्तार किया। उससे 2 लाख की चीटिंग की गई थी। कस्टमर केयर सपोर्ट के नाम पर निशाना बनाया गया था। आरोपी के पास से सिम कार्ड और कई मोबाइल बरामद किया गया है।
इसी तरह से मिलता-जुलता कंप्लेंट MHA पोर्टल पर पुलिस को दो और मिला है। यह पहले से भी चीटिंग के एक मामले में शामिल रहा है। इसकी पहचान अमरूल अंसारी के रूप में हुई है।

डीसीपी रोहित मीणा ने बताया कि 19 मार्च को नीलम गुप्ता नाम की महिला ने शिकायत दर्ज कराई थी। वह आनंद निकेतन, दिल्ली की रहने वाली है। पुलिस को दी गई जानकारी में बताया कि एक अज्ञात नंबर से उसके पास कॉल आया और फोन करने वाले ने कहा इंडियन पोस्ट पार्सल से बोल रहा है। कस्टमर सपोर्ट के नाम पर लिंक भेजकर उसके अकाउंट से दो बार में 2 लाख कैश निकाल लिया गया। जब महिला को अपने अकाउंट से अमाउंट निकालने की जानकारी मिली तो उसे ठगी का एहसास हुआ। उसके बाद इसकी जानकारी पुलिस को दी।

एफआईआर दर्ज करके एसीपी देवेंद्र कुमार सिंह की देखरेख में एसएचओ विकास बुलडक की पुलिस टीम ने जांच शुरू की। जिस अकाउंट में अमाउंट ट्रांसफर हुआ था, उसके बारे में पता लगाया। काफी मशक्कत के बाद इस आरोपी का पता लगाने में पुलिस कामयाब हुई। सब इंस्पेक्टर लव देशवाल, हेड कांस्टेबल अमीर, सुखलाल और कांस्टेबल लेखराज की टीम जामताड़ा पहुंची। वहां पर छापा मारकर इस आरोपी को धर दबोचा।

आरोपी ने पुलिस को बताया कि यह महिलाओं को टारगेट करने के लिए फिशिंग लिंक का यूज करता था। अपने आपको कस्टमर केयर रिप्रेजेंटेटिव बनकर टारगेट करता था। गौरतलब है कि जामताड़ा साइबर क्राइम के लिए एक कुख्यात नाम हो गया है। यहां काफी संख्या में चीटर देश के अलग-अलग हिस्से में रहने वाले लोगों को टारगेट करके उनसे लाखों करोड़ों की ठगी कर चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button