द्वारका

डेटिंग जौमो एप से महिला/लड़की से फ्रेंडशिप,,धोखा !, घर पर मिलने जाते,,हाथ पैर बांध,,सबकुछ लूट ले जाते

रोहिणी, डाबड़ी, द्वारका के चार वारदात का खुलासा

दो गिरफ्तार,,मोबाइल, क्रेटा गाड़ी, स्कूटी बरामद

द्वारका AATS ने किया खुलासा

डेटिंग जौमो ऐप से महिलाओं/ लड़कियों से फ्रेंडशिप करके फिर उसी के घर मिलने का बहाना बनाकर पहुंचने और उसे धोखा देकर, हाथ पांव बांधकर ज्वेलरी, कैश, मोबाइल लूटने वाले दो बदमाशों को द्वारका जिला के एएटीएस की टीम ने गिरफ्तार किया है। इनके पास से पुलिस ने ज्वेलरी, मोबाइल, वारदात में इस्तेमाल क्रेटा कार और चोरी की स्कूटी के अलावा फेक नंबर प्लेट भी बरामद किया है।

रोहिणी, डाबड़ी, द्वारका के चार मामलों का खुलासा

गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान विजय कमल कुमार और राहुल के रूप में हुई है। यह दोनों विपिन गार्डन एक्सटेंशन और मोहन गार्डन के रहने वाले हैं। इनकी गिरफ्तारी से पुलिस ने रोहिणी, डाबड़ी और द्वारका के चार मामलों का खुलासा किया है। जिसमें से सेक्टर 3 रोहिणी के ज्वेलरी शॉप में हुई लूट का मामला भी शामिल है। गिरफ्तार बदमाश विजय पहले से आनंद विहार, मोहन गार्डन और हर्ष विहार इलाके में ज्वेलरी शॉप पर लूट और आटो लिफ्टिंग के वारदात में शामिल रहा है।

31 मई को जीवन पार्क में महिला के साथ लूट हुई थी

डीसीपी द्वारका अंकित सिंह ने बताया कि इस मामले का खुलासा AATS के इंस्पेक्टर कमलेश कुमार की देखरेख में सहायक सब इंस्पेक्टर तोपेश, हेड कांस्टेबल जगत, मनोज और मनीष इत्यादि की टीम ने किया है। जब 31 मई को जीवन पार्क, उत्तम नगर में रहने वाली एक महिला के साथ लूट की वारदात उसी के घर में हुई थी।

डेटिंग जौमो एप से जतिन नाम के युवक से हुई दोस्ती

पीड़ित महिला ने पुलिस को बताया कि डेटिंग जौमो एप के जरिए जतिन नाम के एक शख्स से दोस्ती हुई थी। वह 30 मई की रात में घर पर मिलने के लिए रिक्वेस्ट किया और अपने एक दोस्त के साथ वहां पहुंचा। बातचीत के दौरान अचानक उन्होंने महिला का हाथ, पैर और मुंह टेप से बांध दिया। उसके बाद घर से गोल्ड की ज्वेलरी, मोबाइल और कैश लूटकर फरार हो गए। उस मामले की जांच के बाद डाबड़ी थाना में मामला दर्ज किया गया था। इस मामले को सुलझाने के लिए द्वारका जिला के एंटी ऑटो थेफ्ट स्क्वाड की पुलिस टीम को लगाया गया था।

19 दिनों तक CCTV, टेक्निकल सर्विलांस से जांच

पुलिस टीम ने लगातार 19 दिनों तक सीसीटीवी फुटेज, टेक्निकल सर्विलांस और इनफॉर्मर की मदद से छानबीन के बाद आखिरकार इस मामले का खुलासा किया। डाबड़ी लूट के अलावा तीन और मामले द्वारका और रोहिणी के भी खुले। पुलिस के अनुसार जिस क्रेटा कर से यह दोनों जीवन पार्क पहुंचे थे, उसपर नंबर प्लेट फर्जी लगा हुआ था। पुलिस को यह भी पता चला है कि एक जगह वारदात करने के बाद वहां से लूटे गए मोबाइल का इस्तेमाल दूसरी जगह वारदात के लिए करते थे।

रोहिणी में इसी तरह की वारदात 23 मार्च को हुई थी

रोहिणी में भी इसी तरह की वारदात 23 मार्च को इसी साल हुई थी। जिसमें एक युवती से डेटिंग जौमो एप के जरिए दोस्ती करके उसके घर पर यह पहुंचे। फिर उस युवती के हाथ, पैर, मुंह बांधकर वहां से ज्वेलरी, कैश, मोबाइल लूटकर फरार हो गए थे। उसके बाद इन्होंने सेक्टर तीन रोहिणी में ज्वेलरी शॉप में भी लूटपाट की थी। जिस क्रेटा गाड़ी से वहां गए थे, उसपर नंबर प्लेट फर्जी लगाया था।

हॉस्पिटल के बाहर से और विपिन गार्डन से पकड़ा

लूट के मामले की छानबीन कर रही एएटीएस की टीम ने सबसे पहले राहुल को सफदरजंग अस्पताल के बाहर से दबोचा। फिर उससे जब पूछताछ हुई तो गैंग के मास्टरमाइंड विजय कमल कुमार को विपिन गार्डन इलाके से गिरफ्तार किया गया। वहां से वारदात में इस्तेमाल क्रेटा कार को पुलिस ने बरामद किया और चोरी की स्कूटी के अलावा फेक नंबर प्लेट भी वहां से मिला।

nn24news

एन एन न्यूज़ (न्यूज़ नेटवर्क इंडिया ग्रुप) का एक हिस्सा है, जो एक डिजिटल प्लेटफार्म है और यह बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड अन्य राज्य सहित राजनीति, मनोरंजन, खेल, करंट अफेयर्स और ब्रेकिंग खबरों की हर जानकारी सबसे तेज जनता तक पहुंचाने का प्रयास करता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button