दिल्ली

ड्रग तस्करी के इंटरेस्ट रैकेट में वांटेड

ड्रग तस्कर को स्पेशल सेल ने पकड़ा

स्पेशल सेल की पुलिस टीम ने एक कुख्यात ड्रग तस्कर को पंजाब के भटिंडा में छापा मार कर गिरफ्तार किया है जिसकी पहचान कमलदीप सिंह के रूप में हुई है इसकी चार अलग-अलग मामलों में पुलिस को तलब थी 113 किलो अफीम ड्रग्स दिल्ली में पंजाब और 18 किलो हीरोइन असम में तस्करी की गई थी यह रक्त तस्कर दिल्ली के अलावा पंजाब असम उत्तर प्रदेश बिहार और मणिपुर जैसे राज्यों में रैकेट फैला रखा था यह अपने करियर के जरिए मणिपुर से अफीम ड्रग्स की खेत की सप्लाई अलग-अलग राज्यों में करता था और लगभग 8 सालों से इसमें एक्टिव था करोड़ों के अध्यक्ष की और हीरोइन की सप्लाई अलग-अलग स्टेट में कर चुका है स्पेशल सेल के स्पेशल सीपी हर गोविंद सिंह धालीवाल के अनुसार एसीपी साउदर्न रेंज आलोक कुमार की देखरेख में इंस्पेक्टर शिव कुमार और अतर सिंह की टीम ने कमलदीप सिंह उर्फ छोटू सरदार को गिरफ्तार किया है

 

यह मूलतः असम के गुवाहाटी का रहने वाला है इसकी दिल्ली पुलिस पंजाब पुलिस और असम पुलिस पिछले कई महीनो से तलाश कर रही थी यह गिरफ्तारी से बचने के लिए गुजरात के बड़ोदरा में काफी समय से छिपा हुआ था लेकिन टेक्निकल सर्विलांस की मदद से स्पेशल सेल की पुलिस टीम इसके बारे में पता लगाती हुई भटिंडा जा पहुंची और इस दर्द पहुंचा जब पुलिस टीम को पता चला कि यह डिस्टिक कोर्ट के पास किसी से मिलने के लिए आने वाला है एनडीपीएस एक्ट के मामले में पुलिस टीम ने आसपास ट्रैप लगाया और वहीं पर इस घर दबोचा पुस्तक से पता चला कि इसी साल फरवरी में इसका भाई कमलदीप सिंह और उसका साथी 50 किलो अफीम ड्रेस के साथ पकड़ा गया था जिसे यह कर के अंदर छुपा कर सप्लाई के लिए ले जा रहा था उसे मामले में पूछताछ के बाद कमलदीप सिंह के बारे में पुलिस को जानकारी मिली और उसे मामले में भी है वांटेड हो गया इसके अलावा जूली महीने में भी 56 किलो अफीम ड्रग्स करो से बरामद की गई थी और उसे मामले में भी इसकी बारे में जानकारी मिली थी इसी तरह मार्च महीने में असम में भी 18 किलो हीरोइन इसके दो साथियों के साथ बरामद किया गया था उसे मामले में भी इसकी तलाश थी पुलिस को पूछताछ में पता चला कि ड्रग तस्करी करने वाला इसका गेम गाड़ी के अंदर स्पेशल कैविटी बना करके उसके अंदर छुपा के रखना था जिस किसी को भनक तक नहीं लगती थी आगे की ओर छानबीन की जा रही है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button