दिल्ली

दिल्ली के हासिम बाबा गैंग के लिए लाया 11 सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल

स्पेशल सेल ने दो जगह रेड करके 3 को दबोचा, 11 पिस्टल बरामद

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम में आर्म्स सप्लाई करने के एक और बड़े मामले का खुलासा करते हुए तीन हथियार तस्कर को गिरफ्तार किया है। जिनमें से एक हथियार बनाने वाला मैन्युफैक्चरर भी है। इनके पास से 11 सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल बरामद किया गया है। जो दिल्ली, एनसीआर और उत्तर प्रदेश के क्रिमिनलों को उपलब्ध कराने के लिए मध्य प्रदेश से लाया गया था।

डीसीपी आलोक कुमार ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान विमल कुमार, सुमित कुमार और अमरजीत सिंह उर्फ सरदार के रूप में हुई है। यह तीनों उत्तर प्रदेश के प्रयागराज और मध्य प्रदेश खरगोन के रहने वाले हैं। बरामद किए गए सभी 11 सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल पॉइंट 32 बोर के है।

इनके बारे में एसीपी वेद प्रकाश की देखरेख में इंस्पेक्टर रणजीत सिंह और सतविंदर सिंह की टीम छानबीन कर रही थी। इस छानबीन के दौरान सेल की टीम को जानकारी मिली कि इस तरह का गैंग एक्टिव है, जो दिल्ली, एनसीआर और उत्तर प्रदेश की क्रिमिनल को हथियार उपलब्ध करा रहे हैं। एक स्पेसिफिक इनफॉरमेशन के आधार पर पुलिस टीम ने साउथ दिल्ली के प्रहलादपुर अंडरपास के पास दो हथियार तस्करों को दबोचा। उनके पास से हथियार की खेप बरामद की गई। पूछताछ करने के बाद उनकी पहचान हुई, तो इन्होंने बताया कि यह लोग हाशिम बाबा गैंग को हथियार सप्लाई करने आए थे। यह हथियार के मध्य प्रदेश के खरगोन के रहने वाले अमरजीत से लेकर आए थे। एक पिस्टल 8000 में लेकर आए थे, जिसे आगे 25000 में सप्लाई करना था। इस तरह अभी तक 50 से ज्यादा पिस्टल पिछले दो सालों में सप्लाई कर चुके हैं।

फिर इनकी निशानदेही पर पुलिस टीम ने निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन के पास से अमरजीत को भी धर दबोचा। उसके पास से भी सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल बरामद किया गया। उसने पूछताछ में बताया कि वह खरगोन में सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल बनाने की फैक्ट्री चलाता है और आगे फिर इन लोगों के जरिए सप्लाई करवाता है। अमरजीत के खिलाफ इंदौर में भी आर्म्स एक्ट का मामला पहले से भी दर्ज है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button