दिल्लीबाहरी दिल्ली

प्लास्टिक दाना बनाने की फैक्ट्री में लगी थी भीषण आग, 5 घंटे बाद पाया गया काबू

डिप्टी चीफ ए. के मलिक और एस. के. दुआ की देखरेख में 125 फायर कर्मियों ने काफी मशक्कत बाद बुझाई

हर्षित की रिपोर्ट, नई दिल्ली। दिल्ली में पड़ रही कराके की सर्दी के बीच आग लगने की घटनाएं भी लगातार हो रही है। देर रात उत्तरी बाहरी दिल्ली के बवाना इलाके में फैक्ट्री में भीषण आग लग गई। उस आग को बुझाने के लिए 125 से ज्यादा फायरकर्मियों की टीम को घंटो मशक्कत करना पड़ा। आखिरकार आग पर सुबह काबू पाया गया। यह फैक्ट्री बवाना इंडस्ट्रियल एरिया में साइ धर्म कांटा के पास डी ब्लॉक में स्थित है।
फायर डायरेक्टर अतुल गर्ग ने बताया कि फायर कंट्रोल रूम को देर रात 1:40 पर आग लगने की कॉल मिली थी। तुरंत कई गाड़ियों को मौके पर भेजा गया। साथ ही असिस्टेंट डिविजनल ऑफिसर राजीव सिन्हा, सरबजीत, डिविजनल ऑफिसर राजेंद्र अटवाल, एम के शर्मा को भी भेजा गया। मौके पर फायर कर्मियों की टीम ने देखा की आग चार मंजिला पूरी बिल्डिंग में लगी हुई थी। इसमें बेसमेंट भी बना हुआ था। ग्राउंड फ्लोर के अलावा तीन मंजिल ऊपर बना हुआ था। छत पर टीन शेड भी बना था।
आग की गंभीरता को देखते हुए गाड़ियों की संख्या को बढ़ाकर 25 कर दिया गया और डिप्टी चीफ फायर ऑफिसर एस के दुआ और ए के मलिक को भी भेजा गया। आखिरकार 5 घंटे की मशक्कत के बाद आज सुबह लगभग साढ़े 6 बजे आग पर काबू पाया गया। राहत की बात रही कि इस आग में कोई घायल या हताहत नहीं हुआ। आग बुझाने के बाद कूलिंग का काम किया जा रहा है। फैक्ट्री के सभी हिस्से की तलाशी ली जा रही है, की कहीं कोई उसमें फंसा तो नहीं। इसमें प्लास्टिक दाना बनाने का काम भी किया जाता है और यहां पर रॉ मटेरियल का स्टोर भी था। ऐसा लग रहा है कि पहले फैक्ट्री के लोगों ने खुद आग बुझाने की कोशिश की। लेकिन जब आग उनके काबू से बाहर हो गई, तब फायर कंट्रोल रूम को सूचना दी गई। इसलिए जब फायर की गाड़ियां मौके पहुंची तो पूरी बिल्डिंग जल रही थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button