जुर्मदिल्ली

भाई की जान बचाने आई, 2 बहनों की गोली मारकर हत्या

देर रात से महिलाओं के भाई के साथ चल रहा था विवाद

राजधानी दिल्ली के आर के पुरम इलाके में 2 महिलाओं को अपने भाई की “जान बचाने और उसको भाग भाई, भाग” कहना महंगा पड़ गया। हमलावरों ने दोनो बहनों को गोली मार दी। जिनकी मौत होस्पिटओ में हो गई है। इनकी पहचान 30 साल की पिंकी और 29 साल की ज्योति केके रूप में हुई है।

मौके पर महिलाओं के भाई ललित ने बताया कि रात में उसको किसी से पैसा लेना था वह काम निपटा के वह घर पर आ गया। कुछ देर बाद उसके मौसी के घर पर कुछ लोग पहुंचे, वहां पर उन्होंने हंगामा किया और दरवाजा तोड़कर घर में घुसने की कोशिश की। वहां से ललित के पास फोन आया तो उसने पीसीआर कॉल करने के लिए कहा। उसमें कुछ देर बाद ललित के घर पर फिर वह लोग पहुंच गए काफी हंगामा किया। दरवाजा तोड़कर घर में घुसने की कोशिश की जब सफल नहीं हो पाए तो वापस चले गए। इसी बीच शोर सुनकर कॉलोनी के लोग इकट्ठा हो गए। करीब 20 मिनट के बाद 3:30 बजे सुबह के आसपास वे लोग काफी संख्या में फिर ललित के घर पहुंचे और ललित पर फायर कर दिया। वहां पर मौजूद ललित की दोनों बहने बीच बचाव में आगे आ गई और ललित को बोला “भाग भाई भाग” एक गोली ललित के बॉडी से टच होती हुई निकल गई। लेकिन ललित वहां से भागने में कामयाब हो गया और गुस्साए हमलावरों ने ललित की दोनों बहनों को गोली मार दी और मौके से फरार हो गए।

इन दोनों को सफदरजंग हॉस्पिटल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। ललित ने बताया कि जो लोग उनके घर पर हमला करने आए थे उनमें से एक का यही पास में क्लब चलता है। यह वारदात साउथ वेस्ट डिस्ट्रीक्ट के अंबेडकर बस्ती में हुई है। मामले की पुष्टि करते हुए डीसीपी साउथ-वेस्ट मनोज सी ने बताया कि सुबह 4:40 पर पुलिस को इस मामले की सूचना मिली थी। कॉल करने वाली युवती ने पुलिस को बताया था कि कुछ अज्ञात लोगों ने गोली चलाई है। जिसमें उनकी बहनों को गोली लगी है। मौके पर लोकल पुलिस और पीसीआर की टीम पहुंची।

वहां पर पता चला कि जिन्हें सफदरजंग हॉस्पिटल में उनके भाई के द्वारा ले जाया गया है। शुरुआती जांच में पुलिस को पता चला कि यह वारदात पैसे के लेनदेन और सेटलमेंट को लेकर हुआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button