दक्षिण दिल्लीबाहरी दिल्ली

मात्र 500 के लिए दोस्त ने ले ली दोस्त की जान

संदीप और शुभम दोनों गहरे दोस्त थे पड़ोस में रहते थे, साथ काम करते थे, साथ खाते थे पीते थे। लेकिन मात्र 500 रुपए के लिए हुए विवाद में दोस्त ही दोस्त का दुश्मन बन गया और शुभम ने चाकू मारकर संदीप की हत्या कर दी और मौके से फरार हो गया। हत्या की यह वारदात द्वारका जिला के डाबरी थाना इलाके में हुई। पुलिस को सूचना मिली की जीवन पार्क सोम बाजार रोड में एक अनजान सख्स घायल हालत में पड़ा हुआ है। मौके पर पहुंची पुलिस टीम देखा कि बुरी तरह घायल सख्स पड़ा हुआ है। उसके चेस्ट पर, पेट पर, बैक साइड पर चाकू मारकर बुरी तरह घायल किया गया था। डॉक्टरों ने उसे जांच के बाद मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज करके छानबीन शुरू की।

डीसीपी द्वारका एवं हर्षवर्धन ने बताया कि इस मामले को सुलझाने के लिए आपरेशन सेल के एसीपी राम अवतार की देखरेख में स्पेशल स्टाफ के इंचार्ज नवीन कुमार, एएटीएस के इंचार्ज कमलेश कुमार और एसएचओ डाबड़ी धनंजय प्रताप की टीम बनाई गई। पुलिस टीम ने सीसीटीवी फुटेज से छानबीन शुरू की तो उसमें नजर आया की पांच लोग वहां पर मौजूद थे। जिनमें से लोकल इंटेलीजेंस की मदद से एक की पहचान शुभम के रूप में हो गई, जो जीवन पार्क का रहने वाला निकला।

पुलिस टीम ने शुभम को पकड़ने के लिए लोकल इनफॉर्मर और टेक्निकल सर्विलांस की मदद लेनी शुरू की। लगातार आरोपी अपना लोकेशन बदल रहा था। इसी बीच में ASI धर्मेंद्र को सूचना मिली कि आरोपी जनकपुरी के असालतपुर के पास पार्क में मौजूद है। पुलिस टीम ने वहां पर छापा मारा और उसे गिरफ्तार कर लिया।

वारदात में इस्तेमाल चाकू भी पुलिस ने बरामद कर लिया। उसके बाद आरोपी ने पुलिस को बताया कि पैसे को लेकर उनके बीच में विवाद हुआ था। जब 27 अक्टूबर को संदीप और शुभम साथ में थे। उन्होंने ड्रिंक किया और उसके बाद फिर इनमें बहस शुरू हो गई। पैसे को लेकर के संदीप ने पहले शुभम की पिटाई कर दी और कुछ देर के बाद फिर वह शुभम से लड़ाई करने लगा पैसे को लेकर। जिसके बाद गुस्से में आकर शुभम ने चाकू से संदीप पर हमला कर दिया और मौके से फरार हो गया। ज्यादा खून बहने के कारण संदीप की बाद में मौत हो गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button