उत्तर प्रदेशजुर्मदक्षिण दिल्लीदिल्लीपश्चिमी दिल्ली

हफ्ता वसूली देने से मना किया दुकानदार ने तो दो बेटों के साथ पिता की भी की पिटाई

सीसीटीवी में सारा मामला कैद

पूर्वी दिल्ली के लक्ष्मी नगर इलाके में बीती रात बाइक से आए चार बदमाशों ने एक कपड़े की दुकान पर धावा बोल दिया। आरोपियों ने दुकान में तोड़फोड़ की। कुछ देर बाद आरोपी दोबारा लौटे। अब उन्होंने हवाई फायरिंग की। साथ ही पिस्टल की बट से दो लोगों के सिर पर हमला किया। वे यही नहीं रुके एक युवक पर चाकू ओर तलवार से कई वार किए और मौके से फरार हो गए।

घायलों को हेडगेवार अस्पताल में एडमिट करवाया गया है। जहां से बाद में उन्हें छुट्टी दे दी गई। पुलिस ने हत्या के प्रयास, गैर इरादतन हत्या के प्रयास समेत संबंधित धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।
पुलिस अधिकारी ने बताया कि रविवार रात 10:52 बजे लक्ष्मी नगर पुलिस को आर-ब्लॉक, रमेश पार्क से गोलियां चलने की सूचना मिली थी। पुलिस मौके पर पहुंची। जहां पता चला कि एक बाइक से चार लोग आए। उन्होंने पीड़ित की दुकान में तोड़फोड़ की। बाद में आरोपियों ने पीड़ित के पिता खालिद अनवर पर फायरिंग भी की, लेकिन वह बाल-बाल बच गए। इसके बाद उनके सिर पर पिस्टल की बट से हमला कर दिया। यही नहीं उनके बेटे तारिक अनवर ने उन्हें बचाने की कोशिश की तो आरोपियों ने उसके सिर पर भी हमला कर दिया।

इस दौरान एक बदमाश ने खालिद के दूसरे बेटे अनस की पीठ पर चाकू से दो वार कर दिए। इसके बाद वह हथियार लहराते हुए जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए। आरोपियों की करतूत इलाके में लगे सीसीसीटी कैमरे में भी कैद हुई है।

पीड़ितों ने बताया कि आरोपी उनकी दुकान पर वसूली करने आए थे। यही नहीं वह अन्य दुकानदारों से भी वसूली करते हैं। वसूली ना देने पर ही उन्होंने यह हमला किया। साथ वाली किराने की दुकान भी फोड़ दी। मुख्य आरोपी आमीन पहले से मर्डर केस में शामिल है। इसी कारण वह लोगों को डराकर वसूली करता है।

हालाकि पुलिस संपत्ति विवाद बता रही है पुलिस सूत्रों ने बताया कि पीड़ित और आरोपियों के बीच संपत्ति विवाद चल रहा है। उसी कारण यह हमला हुआ है। संबंधित धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है। जब उन्हें कहा कि पीड़ित वसूली ना देने पर हमले की बात कह रहे हैं, तो उन्होंने कहा कि हमें तो संपत्ति के कब्जे को लेकर विवाद की बात बताई है। जब पीड़ितों से संपत्ति विवाद के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि उनका कोई संपत्ति विवाद नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button