दिल्ली

हरियाणा के फेमस पंपू गैंग के 03 क्रिमिनल को स्पेशल सेल ने दबोचा

दिल्ली में 2 जगह 54 और 16 लाख की गन पवाइंट पर की थी लूट

स्पेशल सेल की पुलिस टीम ने हरियाणा के पंपू गैंग के तीन शातिर क्रिमनलों को गिरफ्तार किया है।
जिनकी पहचान अंकित उर्फ मोटा, अंकित उर्फ माया और लोकेश के रूप में हुई है। इनके पास से 8 जिंदा कारतूस और सोफिस्टिकेटेड तीन पिस्टल बरामद किया गया है।

ईनमें से एक अंकित उर्फ मोटा दिल्ली के प्रशांत विहार में हुए दिनदहाड़े हथियार की नोक पर हुई 54 लाख की लूट के मामले में वांटेड था। जबकि दूसरा बदमाश माया उर्फ अंकित अलीपुर इलाके में 16 लाख रुपए की लूट के मामले में दिल्ली पुलिस का वांटेड है। इसके अलावा यह लोग पंजाब के मोहाली में दो भाइयों पर हुए जानलेवा हमला करने के मामले में भी पंजाब पुलिस की वांटेड लिस्ट में थे। इन्होंने ड्रग्स के बिजनेस को लेकर हुए विवाद में कई राउंड गोलियां चलाई थी और दोनों भाइयों की हत्या करने की कोशिश की थी, लेकिन किस्मत से वह बच गए थे।

डीसीपी राजीव रंजन सिंह की देखरेख में एसीपी वेद प्रकाश, इंस्पेक्टर मनदीप और जयवीर की टीम ने इन तीनों को गिरफ्तार करने में कामयाबी पाई है। यह तीनों ही बदमाश हरियाणा के सोनीपत और पंजाब के मोहाली के रहने वाले हैं। पुलिस के अनुसार यह सभी हरियाणा के राकेश उर्फ पंपू गैंग के क्रिमिनल हैं। लूट, मर्डर और हत्या के प्रयास के मामले में पैरोल भी जम्प कर चुके हैं। इनकी तलाश दिल्ली और पंजाब पुलिस को अलग-अलग मामलों में थी।

पुलिस के अनुसार पिछले साल अप्रैल महीने में इन्होंने एक कंपनी के डिलीवरी एजेंट राकेश कुमार सिंह जो सफदरजंग इलाके के रहने वाले थे, उनसे 54 लाख रुपये गन पॉइंट पर लूट लिया था। जिसकी ए एफ आई आर प्रशांत विहार थाने में की गई थी। उस वारदात की सीसीटीवी फुटेज भी सोशल मीडिया में खूब वायरल हुआ था। उस मामले में सतपाल उर्फ काकी, विजेंद्र उर्फ कबड्डी और योगेश को लोकल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। लेकिन अंकित मोटा की उस समय से पुलिस को तलाश थी। यह लगातार हिमाचल प्रदेश, पंजाब और हरियाणा में अपना ठिकाना बदल रहा था।

वहीं इस साल फरवरी महीने में अंकित उर्फ माया ने अपने साथियों के साथ मिलकर अलीपुर इलाके में दीपांशु नाम के शख्स से 16 लाख रुपए गन पॉइंट पर लूट लिया था। उसकी एफआईआर अलीपुर थाने में दर्ज है। उस मामले में लक्ष्य उर्फ पंडित और हिमांशु जो दोनों हरियाणा के रहने वाले थे, उनको अलीपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। जबकि अंकित उर्फ माया की पुलिस को तलाश थी।

इन लोगों ने 13-14 जुलाई की रात कई राउंड गोलियां पंजाब के मोहाली में चलाई थी दो भाइयों के ऊपर। उनकी हत्या करने के इरादे से फायरिंग की थी। वजह ड्रग बिजनेस में एरिया को लेकर हुआ विवाद था। उस मामले की एफआईआर पंजाब के सुहाना में दर्ज है।

इन लोगों के बारे में टेक्निकल सर्विलांस से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस टीम ने ट्रैप लगाया और विश्वास पार्क उत्तम नगर इलाके से धर दबोचा। इनके पास से हथियार और जिंदा कारतूस बरामद किए गए। फिर इनसे पूछताछ के बाद आगे कार्रवाई करके इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। आगे की और कारवाई पुलिस टीम कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button