दक्षिण दिल्लीदिल्लीपश्चिमी दिल्ली

22 गाड़ियां, 110 फायरकर्मीयों ने बुझाई तड़के पाया पूरी तरह काबू, 2000 स्क्वायर यार्ड में थी आग

डिविजनल ऑफिसर सतपाल भारद्वाज असिस्टेंट डिवीजनल ऑफिसर उदयवीर की टीम ने पाया काबू

अनुभव गुप्ता, नई दिल्ली
साउथ वेस्ट दिल्ली के कापसहेड़ा थाना इलाके के समालखा में बीती रात अचानक एक गोदाम में भीषण आग लग गई और देखते ही देखते आग की लपटें आसमान छूने लगी। आग के साथ-साथ धुएं का गुब्बार भी चारों तरफ फैलने लगा। इसी बीच फायर कंट्रोल रूम को किसी ने इस हादसे की सूचना दी। मौके पर अलग-अलग फायर स्टेशन से आग बुझाने वाली एक दर्जन से ज्यादा गाड़ियों को भेजा गया। आग बुझाने का काम जोरों पर शुरू किया गया, लेकिन आग पर काबू पाने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही थी।

फायर डायरेक्टर अतुल गर्ग ने बताया कि यह हादसा कापसहेड़ा के सोनिया गांधी कैंप के साथ समालखा में हुआ था। फायर कंट्रोल रूम को रात 9:38 बजे के आसपास सूचना मिली थी। मौके पर 14 फायर ब्रिगेड की गाड़ियां आग बुझाने के लिए भेजी गई। डिवीजनल ऑफिसर सतपाल भारद्वाज, असिस्टेंट डिवीजनल ऑफिसर द्वारका उदयवीर सहित 110 फायरकर्मियों की टीम लगातार आग बुझाने में लगी रही। आधी रात करीब एक बजे आग को कंट्रोल किया गया और फिर काफी देर बाद कूलिंग करके पूरी तरह बुझा दिया गया।

इस हादसे में किसी के घायल होने या हताहत होने की सूचना नहीं है। जब आग लगी तो लपटें 50 से 60 फीट ऊंचाई तक पहुंच रही थी। आग के कारणों का पता पुलिस इन्वेस्टिगेशन में चलेगा। आग इतनी ज्यादा थी कई किलोमीटर दूर से दिखाई पड़ रही थी। थाना कापसहेड़ा की पुलिस टीम भी मौके पर पहुंच गई थी और पुलिसकर्मी काफी मुस्तैदी से वहां आसपास के क्षेत्र को खाली करवाने में लगे रहे। जिससे फायर की गाड़ियां समय पर पहुंचती रहे और आसपास के लोग इसकी चपेट में ना आ सकें।

स्थानीय पार्षद जयवीर राणा भी रात में मौके पर पहुंच गए थे। मौके पर लोगों की काफी भीड़ जमा हो गई थी। क्योंकि हादसे वाली जगह के साथ नेशनल हाईवे के नजदीक काम करने वाले मजदूर आसपास की झुग्गियों में रहते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button