उत्तर पश्चिम दिल्लीउत्तरी दिल्लीजुर्मदक्षिण दिल्लीदक्षिण पूर्व दिल्लीदिल्लीद्वारकापश्चिमी दिल्लीबाहरी दिल्ली

लगातार स्नैचिंग से त्रस्त द्वारकावासी..

लगातार हो रही स्नैचिंग से लोगो में दहशत का माहौल

देश की राजधानी दिल्ली की उपनगरी द्वारका, जिसे काफी साफ-सुथरी, हरी-भरी और योजनाबद्ध तरीके से बना कर बसाया गया है और ये दिल्ली के पॉश इलाकों में गिना जाता है। वहां आज-कल स्नैचरों ने आतंक मचाया हुआ है। स्नैचिंग जी वारदात वैसे तो हमेशा से ही होती रही है, लेकिन पिछले कुछ समय मे बदमाशों के हौसले इतने बुलंद हो चुके हैं कि आये दिन यहां होने वाले स्नैचिंग की वारदातों से द्वारकावासी त्रस्त हो चुके हैं।

इसे लेकर जब ईटीवी भारत की टीम ने लोगों से प्रतिक्रिया ली, तो उन्होंने जहां एक तरफ द्वारका पुलिस के सोसाइटी और लोगों के साथ उनकी सक्रिय भागिता और तालमेल में आभाव बताया तो वहीं दूसरी तरफ बदमाशों के हौसले बुलंद होने की वजह से भी वारदातों की संख्या में इजाफा होने को भी एक अहम कारण बताया।

लोगों का कहना है कि पहके पुलिस लगातार आरडब्लूए, एमडब्लूए और सोसाइटी के लोगों के साथ मीटिंग कर उन्हें जागरूक और आवश्यक निर्देश देती रहती थी, लोग भी उन्हें अपने सुझाव देते थे। लेकिन द्वारका पुलिस द्वारा उस एक्टिविटी के बंद किये जाने से कहीं ना कहीं पुलिस अपना आत्मविश्वास खोती नजर आ रही है।

लोगों का कहना है कि पहले तो सिर्फ महिलाओं से स्नैचिंग की वारदातें हुआ करती थी, लेकिन अब तो बदमाश इतने बेखौफ ही चुके हैं कि दिन-दहाड़े पुरुषों से भी वारदात को अंजाम देने में नहीं हिचकते हैं।

वहीं एक बुजुर्ग रेजिडेंट ने स्नैचिंग की बढ़ती वारदातों के पीछे, बेरोजगारी को भी एक बड़ा कारण बताया। उन्होंने कहा कि ऐसी वारदातों में ज्यादातर युवा वर्ग शामिल होते हैं, जो बेरोजगार होने के कारण अपने खर्चो को पूरा करने के लिए ऐसे अपराधों को अंजाम दे रहे हैं।

हालांकि लोगों इसे लेकर पिछले दिनों ने एसीपी को ज्ञापन भी दिया, जिसके बाद पुलिस की उपस्थिति ज्यादा नजर आ रही है। और जब लगातार पुलिस सड़कों और सोसाइटी में नजर आएगी तो स्वाभाविक रूप से इन वारदातों की संख्या में भी कमी आएगी। लेकिन फिलहाल द्वारकावासी स्नैचरों के आतंक से काफी त्रस्त है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button