दिल्ली

एयरपोर्ट से लेकर पहाड़गंज के 2000 से ज्यादा होटल-गेस्टहाउसों पर पुलिस की कड़ी नजर

15 अगस्त में मात्र गिनती के अब एक दिन रह गए हैं। एक तरफ जहां इसको लेकर राजधानी दिल्ली में आतंकी अलर्ट है,

15 अगस्त में मात्र गिनती के अब एक दिन रह गए हैं। एक तरफ जहां इसको लेकर राजधानी दिल्ली में आतंकी अलर्ट है, वहीं दूसरी तरफ दिल्ली पुलिस और दूसरी सुरक्षा एजेंसियां भी लगातार अलग-अलग तरह का एक्शन करके, मॉक ड्रिल करके पार्किंग लॉट को चेक करके सुरक्षा का जायजा ले रही है। दिल्ली में रेलवे स्टेशन के पास वाले इलाके पहाड़गंज से लेकर हाई प्रोफाईल एरिया एयरपोर्ट तक छोटे-बड़े 2000 से ज्यादा गेस्ट हाउस, होटल और फाइव स्टार होटलों पर पुलिस की कड़ी नजर है। यहां आने जाने वाले लोगों की एंट्री पूरी तरीके से हो रही है, या नहीं इसकी भी कड़ी निगरानी की जा रही है। अलग-अलग इलाकों के डीसीपी के निर्देश के अंतर्गत वहां की लोकल पुलिस होटलों में जाकर रजिस्टर की सीसीटीवी की जांच कर रही है, जिससे कि कोई भी ऐसा संदिग्ध होटल में यदि आकर रुक रहा हो तो उसका समय पर सूचना मिल सके। लगातार होटल के प्रबंधकों को ब्रीफ किया गया है।

दिल्ली के सबसे भीड़ भाड़ वालों में से एक पहाड़गंज के होटलों में आने वाले लोगों से आईडी प्रूफ लिया जा रहा है। उसकी पूरी डिटेल रजिस्टर में एंट्री किया जा रहा है। पहचान सुनिश्चित होने के बाद ही कमरा दिया जा रहा है तो दूसरी तरफ पुलिस की टीम होटल में पहुंचकर रजिस्टर को चेक कर रही है। सिक्योरिटी गार्ड को ब्रीफ कर रही है और इसके अलावा दिल्ली पुलिस के कमांडो के जवान एयरपोर्ट से लेकर द्वारका और दूसरे इलाकों में भी मॉक ड्रिल के दौरान सुरक्षा इंतजाम में स्पॉट पर पहुंचने का रिस्पांस टाइम को भी देख रहे हैं।

दिल्ली होटल महासंघ के अध्यक्ष अजय अग्रवाल ने बताया कि गेस्ट हाउस, होटलों में सीसीटीवी तो लगे हुए हैं ही। हम लोग वैसे भी अलर्ट रहते हैं, बिना आईडी प्रूफ देखे, पहचान किए हुए होटल में कमरा किराए पर देने पर सख्त मनाही है। लेकिन 15 अगस्त को देखते हुए और भी ज्यादा अलर्ट हो गए हैं। हमारे अलग-अलग इलाकों में एसएचओ, बिट ऑफिसर होटल के प्रबंधकों के साथ मिलकर उन्हें ब्रीफ कर चुके हैं। लगातार वह सरप्राइज चेक भी कर रहे हैं, कि कहीं कोई ढिलाई तो नहीं बढ़ती जा रही है। जो कोई अगर इसकी अनदेखी करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई भी की जा रही है।

यहाँ सुने क्या कहाँ महासंघ के अध्यक्ष अजय अग्रवाल ने👇🏻

IMG_7215

डीसीपी एयरपोर्ट तनु शर्मा के अनुसार 15 अगस्त को लेकर हम पूरी तरह से सिक्योरिटी को लेकर अलर्ट हैं। मॉक ड्रिल करके रिस्पॉन्स टाईम देख चुके हैं। उन इलाकों में भी जहां पर ना कोई सीसीटीवी कैमरा हो और जंगल इलाका हो वहां पर भी सर्च ऑपरेशन चलाया गया। जहां पर जरूरत लगा वहां पर सीसीटीवी भी इंस्टॉल किया गया है। जो भी एयरपोर्ट के इलाके में होटल है, वहां पर हमारे पुलिसकर्मी नियमित रूप से जाकर रजिस्टर को चेक कर रहे हैं। वहां पर किस तरीके का इंतजाम है, इसको भी देख रहे हैं। जो सिक्योरिटी गार्ड वहां पर तैनात हैं, उनको भी लगातार ब्रीफ किया जा रहा है।

डीसीपी द्वारका एम. हर्षवर्धन ने बताया कि द्वारका में पुलिस ने मॉक ड्रिल किया। सबसे बड़े भीड़-भाड़ वाले वगोस मॉल में भी 1 दिन पहले दूसरी सुरक्षा एजेंसियों के साथ मिलकर मॉक ड्रिल का आयोजन किया गया। रिस्पांस टाइम को चेक किया गया, इसके साथ-साथ जो होटल, गेस्ट हाउस हैं। उन पर भी अलग से निगरानी रखी जा रही है। जो लोग कानून का उल्लंघन कर रहे हैं, या जानकारी को छुपा रहे हैं उनके खिलाफ 188 के तहत एफआईआर दर्ज की जा रही है। 15 अगस्त को लेकर लगातार मार्केट में भी पुलिस की तैनाती बनी हुई है।

लोकल पुलिस के अलावा सीआईडी दूसरी टीम भी अपने स्तर पर लगातार सुरक्षा में लगी हुई है और समय-समय पर लोगों को अलर्ट भी कर रही है।

nn24news

एन एन न्यूज़ (न्यूज़ नेटवर्क इंडिया ग्रुप) का एक हिस्सा है, जो एक डिजिटल प्लेटफार्म है और यह बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड अन्य राज्य सहित राजनीति, मनोरंजन, खेल, करंट अफेयर्स और ब्रेकिंग खबरों की हर जानकारी सबसे तेज जनता तक पहुंचाने का प्रयास करता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button