दिल्ली

आय दिन जहरीले कीड़े-मकोड़े निकलने से छात्र दहशत मे

JNU हॉस्टल मे निकला जहरीला सांप ,वाटर कूलर मे मिली मरी हुई छिपकली

दिल्ली : देश के टॉप यूनिवर्सिटी में से एक जेएनयू के हॉस्टल में जहरीला सांप और वाटर कूलर में मरी हुई छिपकली मिलने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां के छात्राओं से मिली जानकारी के अनुसार यहां पर नर्मदा गर्ल्स डॉरमेट्री हॉस्टल में लगे पीने वाले वाटर कूलर में मरी हुई छिपकली मिली है। जिसका पानी पीने से कई छात्राएं बीमार भी हो गई थी।

विडीओ भी देखें👇🏻

IMG_6314

वहीं इसी हॉस्टल के कैंपस में एक जहरीला सांप भी देखने को मिला है. इसको लेकर छात्र संघ ने प्रशासन से शिकायत भी की है।एबीवीपी के छात्रों का आरोप है की साफ सफाई के कमी की वजह से इस तरह के चीजें कैंपस में हो रही है। प्रशासन इसको लेकर कोई भी कदम नहीं उठा रहा है। छात्रों का आरोप है की यहां पर साफ सफाई के किसी भी तरह के इंतजाम नहीं हैं। वक्त पर सफाई नहीं की जाती है, जिसके कारण ऐसी खतरनाक तस्वीर देखने को मिल रही है। गनीमत है, की समय रहते यह चीजें सामने आ गई। नही तो कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है।जेएनयू के एबीवीपी छात्रसंघ के छात्रों का आरोप है, की इस हॉस्टल में जो वाटर कूलर लगा है इस पानी को कई लड़कियों ने पिया है। जिसके चलते उनकी थोड़ी बहुत तबीयत खराब भी हुई है। वक्त रहते पता चल गया की वाटर कूलर के पानी में मरी हुई छिपकली पड़ी हुई है। गनीमत है की कूलर का पानी ज्यादा जहरीला नहीं हुआ था। वरना यह अंजाम और भी बुरा हो सकता था।एबीवीपी से जुड़ी छात्रा शिखा स्वराज ने बताया की छात्रों ने इसको लेकर प्रशासन से शिकायत भी की है। इसी हॉस्टल के कैंपस के अंदर जहरीला सांप देखने से डर तो लग ही रह है। यह केंपस काफी ज्यादा जंगली क्षेत्र है, जहां पर ऐसे जीवजंतु का रहना आम बात है। लेकिन अगर हॉस्टल में साफ-सफाई समय पर होती रहे तो ऐसी दिक्कत नहीं होगी। इस मामले को लेकर जेएनयू प्रशासन की तरफ से क्या पहल की गई है छात्रों की शिकायत पर इसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।

nn24news

एन एन न्यूज़ (न्यूज़ नेटवर्क इंडिया ग्रुप) का एक हिस्सा है, जो एक डिजिटल प्लेटफार्म है और यह बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड अन्य राज्य सहित राजनीति, मनोरंजन, खेल, करंट अफेयर्स और ब्रेकिंग खबरों की हर जानकारी सबसे तेज जनता तक पहुंचाने का प्रयास करता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button