उत्तराखंड

Masoori breaking || सैलानियों का समय, मसूरी मॉल रोड की खुदाई, भड़के वयापारी,, क्यों ?

मसूरी लाइब्रेरी बाजार किताब घर के पास कल सायं डंपर चालक रघुवीर की दुर्घटना में मौत हो गई जिसमें आज मसूरी ट्रेडर्स एंड वैलफेयर असोसिएशन के रजत अग्रवाल जगजीत कुकरेजा नागेंद्र उनियाल के नेतृत्व में काफी संख्या में मसूरी माल रोड के व्यापारियों के साथ धरना प्रदर्शन किया और डंपर चालक की मौत को लेकर और उनकी आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन धारण कियाऔर रोष प्रकट किया।

जगजीत कुकरेजा ने बताया कि मसूरी में अप्रैल मई से शैलानियों का आना शुरू हो जाता हैं औऱ व्यापारियों का यही सीजन होता है और इसी सीजन के टाईम मसूरी माल रोड से लाइब्रेरी तक सड़को पर खुदाई का कार्य बहुत धीमी गति से चल रहा हैजबकी जिलाधिकारी सोनिका ने जब मसूरी का दौरा किया था तब 30 अप्रैल तक मसूरी सौंदर्यकर्ण का कार्य पूरा करने का टाईम दिया था लेकिन लचर नीति के चलते अभी सड़को पर खुदाई का कार्य अभी तक चल ही रहा है जबकि प्रशासन का कोई भी कार्य हो रातो रात चलकर खत्म भी कर दिया जाता है जबकि मसूरी में दिन में कार्य होता हैं और उसी दौरान सैलानी घूमने के लिए आते है और उनको काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है

महामंत्री सुधीर डोबाल ने भी प्रशासन को आड़े हाथ लिया।मजदूर संघ के महामंत्री देवी गोदियाल ने कहा कि मसूरी में चुनाव की प्रक्रिया को ही खत्म कर दिया जाए तो मसूरी का कायाकल्प हो सकता है।क्योंकिं मसूरी में प्रत्येक वार्ड का अलग अलग प्रतिनिधी बना हुआ है जिसके चलते काफी समस्याओ का सामना करना पड़ता हैं।उन्होंने कहा कि अब मसूरी में बदलाव की लहर आएगी और किसी भी व्यापारी भाई के दुकान के आगे अगर मलबे का ढेर मिलता है तो हम व्यापारी भाई विरोध प्रदर्शन करेंगे।उन्होंने कहा कि मसूरी में जल्द से जल्द सौन्दर्यकर्ण का काम शुरू किया जाए ताकि मई में आने वाले शैलानियों को एक अच्छा अनुभव मिले।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button