नेशनल

GST Slab Rate: बड़ी खबर! खत्म होगा 12 फीसदी का जीएसटी स्लैब! बैठक में मंजूर हो सकती है सिफारिश

GST Slab Rates: जिन वस्तुओं पर 12 फीसदी जीएसटी वसूला जाता है, कुल जीएसटी कलेक्शन में उसकी हिस्सेदारी केवल 8 फीसदी है

GST Rate Update: जीएसटी को लेकर लोगों को कुछ राहत भरी खबर मिल सकती है. दरअसल, जीएसटी रेट्स के युक्तिकरण और समीक्षा के लिए बनाये गए मंत्रियों का समूह (GOM) 12 फीसदी जीएसटी स्लैब रेट को खत्म करने के पक्ष में है. मंत्रियों के समूह के सदस्यों का मानना है कि जिन वस्तुओं पर 12 फीसदी जीएसटी वसूला जाता है, कुल जीएसटी कलेक्शन में उसकी हिस्सेदारी केवल 8 फीसदी है. ऐसे में 12 फीसदी जीएसटी को खत्म किया जा सकता है. उम्मीद है कि बैठक में इस पर निर्णय पर फैसला लिया जा सकता है.

खत्म होगा 12 फीसदी स्लैब!

दरअसल, अभी बटर, घी, फ्रूट जूस, अल्मांड्स, 1,000 रुपये से कम के फूटवियर, प्रोसेस्ड फूड्स, सेलर वायर हीटर्स और 1,000 रुपये तक होटल के कमरे पर 12 फीसदी जीएसटी लगता है. ऐसे में अगर इस सिफारिश को मंजूरी मिलती है तो स्लैब खत्म हो जाएगा. हालांकि आपको बता दें कि जीएसटी स्लैब में कोई भी बदलाव पर आखिरी फैसला जीएसटी काउंसिल की बैठक में लिया जाएगा.
आपको बता दें कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई इस मंत्रियों के समूह के अध्यक्ष है. जिन्हें जीएसटी रेट्स के युक्तिकरण, जीएसटी स्लैब का विलय , और जीएसटी छूट वाली लिस्ट की समीक्षा किए जाने जिम्मेदारी सौंपी गई है.

जीओएम में होगी चर्चा

गौरतलब है कि जून 2022 में जीएसटी काउंसिल की बैठक में इस कमिटी को अपनी सिफारिशें सौंपने के लिए तीन महीने का और समय दिया गया था. इज़के बाद मंत्रियों के समूह की इस महीने बैठक होने वाली है जिसमें इन मुद्दों पर चर्चा की उम्मीद की जा रही है. फिलहाल जीएसटी के चार स्लैब हैं जिसमें 5 फीसदी, 12 फीसदी, 18 फीसदी और 28 फीसदी शामिल है. इसके अलावा कट डायमंड और ज्वेलरी पर 1.5 और 3 फीसदी  टैक्स लगता है. अगर जीएसटी स्लैब खत्म होता है तो लोगों को बड़ी राहत मिल सकती है.

nn24news

एन एन न्यूज़ (न्यूज़ नेटवर्क इंडिया ग्रुप) का एक हिस्सा है, जो एक डिजिटल प्लेटफार्म है और यह बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड अन्य राज्य सहित राजनीति, मनोरंजन, खेल, करंट अफेयर्स और ब्रेकिंग खबरों की हर जानकारी सबसे तेज जनता तक पहुंचाने का प्रयास करता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button