दिल्लीनेशनल

Sukesh Chandrashekhar: सुकेश चंद्रशेखर की मदद करने वाले अधिकारियों की खैर नहीं, मामले की तह तक जाएगा सुप्रीम कोर्ट

Sukesh Chandrashekhar: सुप्रीम कोर्ट सुकेश चन्द्रशेखर मामले की तह तक जाएगा. सुप्रीम कोर्ट ने आरोपी सुकेश से उसकी मदद करने वाले जेल अधिकारियों का नाम बताने के लिए कहा है.

Sukesh Chandrashekhar: कई हाई प्रोफाइल लोगों के साथ ठगी के मामले में गिरफ्तार सुकेश चन्द्रशेखर से सुप्रीम कोर्ट ने उन जेल अधिकारियों के नाम बताने को कहा है जिन्हें उसकी ओर से पैसा दिया गया. कोर्ट ने सुकेश को जेल अधिकारियों के साथ-साथ उन लोगों की जानकारी भी देने को कहा है, जिन्होंने सुकेश की तरफ से जेल अधिकारियों को पैसे दिए. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि वो इस मामले की तह तक जाएगा.

सुकेश और ED के आरोप

दरअसल सुकेश चन्द्रशेखर के वकील आर बंसत ने आरोप लगाया कि जेल में रहते हुए जेल अधिकारियों ने उससे साढ़े बारह करोड़ रुपये की उगाही की. वहीं, दूसरी ओर ED ने कोर्ट को बताया कि सुकेश जेल अधिकारियों को हर महीने डेढ़ करोड़ रुपये की रिश्वत दे रहा था. ताकि जेल में रहते हुए ही मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर रैकेट  चला सके. कोर्ट ने कहा कि हम इस बात की तह तक जाएंगे कि सुकेश ने जेल से रैकेट चलाने के लिए रिश्वत दी या उससे उगाही की गई. इसलिए पैसा पाने वाले जेल अधिकारियों और  सुकेश चंद्रशेखर की ओर से उन तक पैसा पहुंचाने वाले लोगों के नाम सामने आना जरूरी है.

सुकेश को तिहाड़ जेल में सता रहा डर

सुकेश चंद्रशेखर और उसकी पत्नी ने  तिहाड़ जेल में अपनी सुरक्षा को खतरा जताते हुए दिल्ली से बाहर की दूसरी जेल में ट्रांसफर करने की मांग की थी. सुकेश की ओर से सुप्रीम कोर्ट में दायर अर्जी में कहा गया है कि जेल अधिकारियों की पैसों की मांग पूरी न करने के चलते उसे प्रताड़ित किया जा रहा है.यहां जेल में उसकी जान को खतरा है. वहीं दूसरी ओर ईडी ने इन आरोपों को खारिज किया है.

दूसरी जेल से रैकेट चलाने की फिराक में सुकेश

ईडी की ओर से एडिशनल सॉलिसिटर जनरल एसवी राजू ने कहा कि तिहाड़ जेल से दिल्ली से बाहर दूसरी जेल ट्रांसफर करने की सुकेश चंद्रशेखर की मांग के पीछे एक सोची समझी साजिश है.सुकेश  तिहाड़ जेल में जेल अधिकारियों की मिलीभगत से रैकेट चला रहा था. उसने जेल में रहते हुए कभी जज तो कभी कानून मंत्री बनकर लोगों को ठगा है.जेल में रहते ही उसने मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर हाई प्रोफाइल लोगों से 214 करोड़ रुपये की ठगी की. मामला सामने आने के बाद कई जेल अधिकारियों को सस्पेंड किया गया है. चूंकि अब वो तिहाड़ जेल से अपना रैकेट नहीं चला सकता. इसलिए वो दिल्ली से बाहर की जेल में ट्रांसफर चाहता है, ताकि वहां से रैकेट चला सके.

जेल में मॉडल से मुलाकात

इससे पहले 21 जून को इस मामले पर हुई  सुनवाई में ED की ओर से सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता पेश हुए थे. उन्होंने तिहाड़ से दूसरी जेल ट्रांसफर करने की सुकेश चंद्रशेखर की मांग का विरोध किया था. उनका कहना था कि जेल में सुकेश की जान को खतरा होने की  उसकी दलील बेमानी है. हकीकत तो ये है कि जेल में उसे मिलने के लिए मॉडल आया करती थीं. उन मॉडल से मिलने के लिए उसने जेल अधिकारियों को घूस दी थी.

nn24news

एन एन न्यूज़ (न्यूज़ नेटवर्क इंडिया ग्रुप) का एक हिस्सा है, जो एक डिजिटल प्लेटफार्म है और यह बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड अन्य राज्य सहित राजनीति, मनोरंजन, खेल, करंट अफेयर्स और ब्रेकिंग खबरों की हर जानकारी सबसे तेज जनता तक पहुंचाने का प्रयास करता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button